मशहूर लोग समाचार

कविता कौशिक ने शेयर किया गालियों का स्क्रीनशॉट तो गिड़गिड़ाए ट्रोल्स

कविता कौशिक

सेलेब्स को सोशल मीडिया पर अक्सर ट्रोलिंग और साइबर बुली का सामना करना पड़ता है फिर बात चाहे बॉलीवुड एक्टर्स की हो या टीवी स्टार्स की। जहां अक्सर सेलेब्स ऐसे ट्रोलर्स को नजरअंदाज करते हैं तो कई बार वो इन्हें बेनकाब करने से भी पीछे नहीं रहते।हाल ही में टीवी एक्ट्रेस और बिग बॉस 14 में नजर आईं कविता कौशिक ने भी कुछ ऐसा ही किया।

शेयर किए स्क्रीनशॉट

कविता ने सोशल मीडिया पर उन्हें मिले हेट मैसेज के स्क्रीनशॉट शेयर किए। कविता ने जो स्क्रीनशॉट शेयर किए उसमें एक शख्स ने उन्हें गाली दी। यूजर ने एक्ट्रेस से विनती की कि वो उन्हें माफ कर दें क्योंकि वो (यूजर) एक लड़की है और गरीब परिवार से आती है। इन स्क्रीनशॉट्स को शेयर करते हुए कविता ने लिखा कि इन्हें बेनकाब करो।

कविता कौशिक ने ट्रोल्स द्वारा भेजे गए मेसेज के स्क्रीनशॉट अपने ट्विटर हैंडल पर शेयर कर दिए और अपने फैन्स ने उन्हें एक्सपोज करने की अपील की। इसके बाद तो ट्रोल्स की हालत ही खराब हो गई। वो कविता कौशिक से माफी मांगते और गिड़गिड़ाते नजर आए। ट्रोल्स के मेसेज का स्क्रीनशॉट शेयर कर कविता ने लिखा था, ‘इन्हें बाहर निकालो, एक्सपोज करो।’

मालूम हो कि कविता कौशिक ऐसी पहली एक्ट्रेस नहीं हैं जिन्होंने सोशल मीडिया अब्यूजर्स को बेनकाब किया हो। इससे पहले भी कई एक्ट्रेसेस ऐसा कर चुकी हैं।

यह भी पढ़ें:-झनक शुक्ला ,कल हो ना हो की बाल कलाकार अब 25 साल की पुरातत्वविद हैं

हाल ही में एक्ट्रेस दिव्या अग्रवाल ने सोशल मीडिया पर अपनी वीडियो शेयर की थी जिसमें वो टॉपलेस नजर आ रही थीं। जिसपर उन्हें कई हेट कमेंट मिले थे जिसे एक्ट्रेस ने शेयर किया था।

यूज़र ने उनसे रिक्वेस्ट किया

कविता के इस पोस्ट के बाद एक यूज़र ने उनसे रिक्वेस्ट करते हुए कहा कि ‘कविता जी स्कूल का बच्चा लग रहा है माफ कर दीजिए’। जिसके जवाब में कविता ने यूज़र से कहा, ‘आज मैंने जाने दिया तो कल किसी छोटी बच्ची को गाली देगा, परसों बड़ा होके अपने आसपास की लड़कियों के लिए खतरा बनेगा। आज नहीं डरा तो कल बड़ी हरकत करेगा’।

About the author

शुचि गुप्ता

शुचि गुप्ता

शुचि ऑनलाइन पत्रकारिता, प्रबंधन और सामाजिक मीडिया में एक मजबूत अनुभव के साथ एक समाचार मीडिया पेशेवर हैं| उनकी ताकत में ऑनलाइन मीडिया का ज्ञान, संभावित रुझान योग्य विषयों का पता लगाना, समाचार और वेब और मोबाइल के लिए कंटेंट की दक्षता का पता लगाना शामिल है।

Add Comment

Click here to post a comment